No icon

आगरा के पहले कमिश्नर आफ पुलिस डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने संभाला चार्ज. आगरा में पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम लागू….छोटे—छोटे झगड़ों में भी होगी जेल…

आगरा के पहले पुलिस आयुक्त यानी कमिश्नर आफ आगरा डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने चार्ज संभाल लिया है. अब वह प्रेस वार्ता कर पुलिस की प्राथमिकताएं भी बताएंगे. बता दें कि आगरा को पुलिस कमिश्नरेट बनाने के साथ ही पहले पुलिस आयुक्त की भी नियुक्ति कर दी है. शासन ने 2004 बैच के आईपीएस डॉ. प्रितिंदर सिंह को आगरा का पहला पुलिस आयुक्त नियुक्त किया है. वर्तमान में डॉ. प्रितिंदर सिंह जेल विभाग में आईजी के पद पर तैनात हैं. वे आगरा के पहले पुलिस आयुक्त हैं. आगरा में कमिश्नरेट प्रणाली लागू होने से अब छोटे—छोटे झगड़ों में भी पुलिस कार्रवाई करेगी और जेल भेजेगी. अभी तक पुलिस शांतिभंग में कार्रवाई करती थी.

केशव कुमार चौधरी आगरा के पुलिस उपायुक्त
कमिश्नरेट प्रणाली में पुलिस आयुक्त और पुलिस उपायुक्त की तैनाती की गई है. पहले पुलिस आयुक्त डॉ. प्रितिंदर सिंह हैं तो पुलिस उपायुक्त के पद पर केशव कुमार चौधरी को तैनात किया गया है.

ये होगा बदलाव
आगरा में कमिश्नरेट सिस्टम लागू होने पर पुलिस को मजिस्ट्रेट शक्तियां मिल गई हैं. एसीपी की कोर्ट बनाई जाएगी जिसमें शांतिभंग के मामलों में भी सुनवाई होगी. अब कमिश्नरेट व्यवस्था में शांतिभग की धारा में जमानत देने और जेल भेजने का अधिकार एसीपी को होगा. मामले की गंभीरता के हिसाब से एसीपी निर्णय लेंगे. इसमें जेल भेजने की भी कार्रवाई होगी. अब 151 की कार्रवाई होने के बाद आरोपियों को सीआरपीसी की धारा 107/116 में पाबंद भी किया जाएगा.

Comment As:

Comment (0)