No icon

 ईद-उल-अजहा पर ताजमहल में नमाज के लिए 50 लोगों को मिलेगा प्रवेश

ईद-उल-अजहा (बकरीद) पर ताजमहल स्थित शाही मस्जिद में सुबह 8:30 बजे नमाज होगी। कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते केवल 50 लोगों को नमाज पढ़ने की इजाजत होगी। इन्हें स्मारक में निश्शुल्क प्रवेश दिया जाएग।

 

ताजमहल में शुक्रवार को साप्ताहिक बंदी रहती है, लेकिन कोरोना काल से पूर्व स्थानीय नमाजियों के लिए दोपहर में दो घंटे स्मारक खुलता रहा है। कोरोना काल में फिलहाल शुक्रवार को ताजमहल में नमाजियों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। कोरोना काल में पिछले वर्ष ताजमहल बंद होने से ईद-उल-फितर और ईद-उल-अजहा की नमाज घर पर ही पढ़ी गई थी। इस वर्ष भी ईद-उल-फितर पर ताजमहल बंद रहा था। बुधवार को ईद-उल-अजहा है और ताजमहल खुला हुआ है। यहां जिला प्रशासन ने 50 लोगों को नमाज के लिए प्रवेश देने की अनुमति प्रदान की है। उन्हें स्मारक में आठ बजे से प्रवेश मिलेगा। पूर्वी व पश्चिमी गेट पर ताजमहल मस्जिद इंतजामियां कमेटी द्वारा 25-25 लोगों को नमाज के लिए प्रवेश कराया जाएगा। कोरोना काल से पूर्व ईद-उल-फितर और ईद-उल-अजहा पर ताजमहल तीन घंंटे के लिए निश्शुल्क रहा करता था। नमाजियों के साथ अन्य पर्यटकों को भी बिना टिकट स्मारक में प्रवेश मिलता था। इस बार केवल 50 नमाजियों के लिए आदेश होने से केवल उन्हें ही निश्शुल्क प्रवेश मिलेगा। 

Comment As:

Comment (0)